India की Capital Delhi में स्थित Qutub Minar , Asia की सबसे ऊंची मीनार है। यह Mughal Architecture का एक अद्भुत नमूना है, जो कि भारत की सबसे भव्य और मशहूर ऐतिहासिक इमारतों और famous पर्यटन स्थलों में से एक है। India की सबसे ऊंची मीनार Qutub Minar, Delhi के महरौली इलाके में छत्तरपुर मंदिर के पास स्थित है। Qutub Minar को यूनेस्को द्वारा भारत के सबसे पुराने वैश्विक धरोहरों की सूची ( UNESCO World Heritage Sites in India) में भी शामिल किया गया है।

Architecture

Qutub Minar

गुलाम राजवंश के कुतुबुद्दीन ऐबक ने  1199 में मीनार की नींव रखी थी और यह नमाज़ अदा करने की पुकार लगाने के लिए बनाई गई थी तथा इसकी पहली मंजिल बनाई गई थी, जिसके बाद उसके दामाद इल्तुतमिश ( 1211-36) ने तीन और मंजिलें इस पर जोड़ी। कुतुब मीनार Red stones से बनी है। जिनमें लगाए Red stones पर कुरान की आयतें ,मुहम्मद गौरी और कुतुबुद्दीन की तारीफ की गई है। कुतुब मीनार के base की चौड़ाई 14.3 m और Top की चौड़ाई 2.7 m है। इसकी 379 stairs है। इसकी 5वीं और Last मंजिल 1368 में फिराज शाह तुगलक ने बनवाया था । इसकी सभी मंजिलों के चारों ओर आगे बढ़े हुए छज्‍जे हैं जो मीनार को घेरते हैं ,जिन पर मधुमक्‍खी के छत्ते के समान सजावट है और यह सजावट पहली मंजिल पर अधिक clear दिखाई पड़ता है । कुतुब मीनार के Area के आसपास कई अन्य प्राचीन और मध्य युगीन संरचनाओं के खंडहर हैं।

क़ुव्वत-उल-इस्लाम मस्जिद’

Qutub Minar

क़ुव्वत-उल-इस्लाम मस्जिद’ मीनार के north east में स्थित है यहमस्जिद  क़ुतुबमीनार के नजदीक ही स्थित है।, जिसका निर्माण कुतुबउद्दीन ऐबक ने 1198 में पृथ्वीराज चौहान की पराजय के बाद ऐबक ने इस मस्जिद का निर्माण करवाया था। यह  Delhi के सुल्‍तानों द्वारा बनायीं गयी सबसे पुरानी ढह चुकी मस्जिद है। इसमें नक्काशी वाले खम्भों पर उठे आकार से घिरा हुआ एक Rectangular आंगन है और, यह मजिद 27 हिन्दू और जैन मंदिरों को तोडकर उससे लिये खबो पर बनायी गयी थी जिन्‍हें कुतुब उद्दीन ऐबक द्वारा नष्ट कर दिया गया था, जिसका विवरण   खोदे गए शिला लेख में मिलता है। आगे चलकर एक बड़ा अर्ध गोलाकार पर्दा खड़ा किया गया था और मस्जिद को बड़ा बनाया गया था। यह कार्य इल्तुतमिश ( 1211-36) द्वारा और अलाउद्दीन खिलजी द्वारा किया गया था। इसके आंगन में स्थित लोहे का स्तम्भ 4th century A.D की ब्राह्मी लिपि में शिला लेख दर्शाता है ।

इल्तुतमिश ( 1211-36) का मकबरा 1235 में बनाया गया था। यह Red sand stone का बना हुआ Plain Square room है, जिसमें ढेर सारे शिला लेख, Geometry shapes और अरबी पैटर्न में Saracenic style की लिखावटे प्रवेश तथा पूरे अंदरुनी हिस्से में दिखाई देती है ।

कुतुब मीनार की Timing

कुतुब मीनार में हफ्तेभर Entryहो सकती है और इसकी Timing सुबह 6 am शाम के 6 pm तक है। यहां आप आराम से 1 से 2 घंटे बिता सकते हैं।भारतीय पर्यटकों के लिए Fee 30 rs है, जबकि विदेशी पर्यटकों के लिए टिकट की कीमत 500rs रखी गई है।

How To Reach Qutub Minar

Qutub Minar का Nearest Metro Station कुतुब मीनार है, जो Yellow line में है। Qutub Minar Metro station पहुंचकर पर्यटक, Road की दूसरी तरफ से DTC no – 539 और 715 ले सकते हैं। Non AC बस में किराया 5 रुपये तक है, जबकि AC बस में 10 रुपये। इसके अलावा जो भी Bus महरौली की तरफ जाती हैं, वे सभी Qutub Minar से होकर जातीं हैं। आप चाहें तो Bus पकड़कर भी Qutub Minar जा सकते हैं। Auto के ज़रिए भी Qutub Minar जाया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *